है करबद्ध वंदन 
सुबह का अभिनन्दन 
हरियाली यहां 
नदी झरने बहते 
अनुकंपा से उसकी 
खुशहाली सदा 
 
शत्रु मित्र खुशहाल शान्ति से रहते 
परस्पर प्रणय का मधुर राग कहते 
हो जननी का दर्शन 
हर रस्ता हो कंचन 
किरण भेज आशा की हर सूं यहां 
 
है करबद्ध वंदन 
 
बच्चों आओ मिल के करें प्रार्थना हम 
हो घर घर में खुशियां , नहीं हों कोई गम 
रहे भावना ये 
करें कामना ये 
कि आशा की किरणें रहे हर दिशा 
 
है करबद्ध